मध्यप्रदेश को मिलेगा स्वास्थ्य और चिकित्सा क्षेत्र में पूर्ण सहयोग

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से आज शाम मुख्यमंत्री निवास पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री मनसुख मांडविया ने भेंट की। भेंट में मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य और चिकित्सा क्षेत्र के संबंध में चर्चा हुई। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी भी उपस्थित थे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री मांडविया ने विभागों में कामकाज को बेहतर बनाने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म के उपयोग, बैठकों और कार्यक्रमों के शेड्यूल को व्यवस्थित बनाने के लिए की गई पहल की जानकारी दी। उन्होंने स्वास्थ्य और चिकित्सा क्षेत्र में मध्यप्रदेश को पूर्ण सहयोग देने की बात कही।

आयुष्मान भारत योजना पर मध्यप्रदेश का अंतरिम प्रतिवेदन तैयार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री मांडविया को बताया कि प्रशासनिक सुधार और सुशासन के लिए मध्यप्रदेश में विचार-विमर्श, चर्चा और बैठकें नियमित रूप से होती हैं। पचमढ़ी में विशेष चिंतन बैठक हुई थी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आईडियाज को क्रियान्वित करने में मध्यप्रदेश सक्रिय रहता है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि वाराणसी में हुए सीएम कॉन्क्लेव के बाद मध्यप्रदेश ने आयुष्मान भारत योजना से संबंधित महत्वपूर्ण सुझावों को संकलित किया है। इसका विस्तृत प्रतिवेदन तैयार किया गया है जो शीघ्र ही केंद्र सरकार को सौंपा जाएगा। केंद्रीय मंत्री श्री मांडविया ने कहा कि आप इस प्रतिवेदन से संबंधित प्रेजेंटेशन के लिए आमंत्रित हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को मध्यप्रदेश के जनजातीय बहुल क्षेत्रों में अस्पतालों के निर्माण के लिए दी जा रही रियायतों और नवीन मेडिकल कालेजों की स्थापना की योजना की भी जानकारी दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को साँची स्तूप की प्रतिकृति भेंट की और मुख्यमंत्री निवास में उनके आगमन पर पुष्प-गुच्छ से स्वागत किया।